पाँच चीजे जो लाइफ मे कभी मत करना ।

जिंदगी मे हम कई बार ऐसी -ऐसी चीजे कर बैठते है जिसकी वजह से बाद मे हमे पछताना पड़ता है और हम अपनी दोस्ती ,relationship और कई सारी चीजे खो बैठते है । आज मै ऐसी ही कुछ important चीजे बताने वाला हूँ जो अगर आप नही करोगे तो वो आपके लिये तो बहतर होगा ही साथ मे आपके आस-पास के लोगो के लिये भी अच्छा रहेगा ।
life solutions  by Dreamlifestruggle

1. दूसरो की बुराई को enjoy करना ।

बहुत खतरनाक है ये ,अगर हमारे सामने कोई किसी की बुराई करता है तो हम बहुत खुश होते है । खासकर तब जब वो कोई ऐसा person हो जिसके साथ हमारी भी नही बनती । लेकिन मे strongly एक बात बता सकता हूँ कि अगर उस पर्सन को पता चला कि आप उसकी बुराई कर रहे थे या सुन रहे थे तो आप उस व्यक्ति को हमेशा - हमेशा के लिये खो बैठोगे । 

2. दूसरो पर Depend रहना ।

हम सब के अंदर एक गंदी आदत होती है कि हम दूसरो पर डिपेंड रहते है और यही सोचते रहते है कि शायद वो मेरी मदद कर दे । मै कहता हूँ कि ये सब बकवास है । reality को ज़रा ध्यान से देखने की कोशिश करो कि कोई आपकी मदद क्यों करेगा आखिर उसकी भी अपनी लाइफ है,उसकी भी लाइफ मे अपनी problems है ,हो सकता है कि उसकी प्रॉब्लम्स आपकी प्रॉब्लम्स से ज्यादा बड़ी हो । लेकिन जो खुद पर depend रहना सीख गया वो इतनी जल्दी गिरेगा नही । उसके सामने कोई भी सिचुयेशन आ जाये । वो उसका सामना आसानी से कर लेगा ।

3. जो बीत गया उस पर बार -बार अफसोस करना ।

देखो दो चीजे है लाइफ मे ,एक तो वो जहाँ हम कुछ नही कर सकते और दूसरी वो जहाँ हम कुछ कर सकते है । जहाँ हम कुछ कर सकते है उसके लिये action लो और जहाँ हम कुछ नही कर सकते उसे चुप -चाप से accept करो । यही एक तरीका है अपनी अंदर की problem को भी solve out करने का । हमारे साथ past मे कुछ ऐसी -ऐसी चीजे हुई होती है जिस वजह से हमे बार -बार तकलीफ होती है ,वो कुछ भी हो सकता है एक relationship की धज्जियां उड़ते हुए देखना ,काम का छुटना या फ़िर किसी बहुत बड़ी problem मे फ़ंसना । past की जो बार -बार बुरी memory आ रही है उसे solve out करने का एक ही तरीका है अगर आप उस situation के लिये जो कि आपके साथ past मे हुई थी ,present movement मे उसके लिये कुछ कर सकते हो तो आप action ले सकते हो ।
Read:Marshall arts से Bollywood actor बनने तक का सफर ।
पर कुछ चीजे ऐसी भी हुई होती है लाइफ जिसके लिये हम कुछ नही कर सकते । उसे चुप -चाप accept करो । इससे आप का अफसोस करना ख़त्म हो जयेगा । मै ये नही कह रहा कि वो memories ख़त्म हो जायेगी । वो तो रहेगी और दौबारा से आयेगी लेकिन उनकी वजह से आपके काम के ऊपर कोई असर नही होगा ।

4. जो नही चाहते उस पर focus करना

लाइफ मे बहुत सी ऐसी चीजे है जो हमे पसंद नही भी होती फ़िर भी हम उसे करने की कोशिश करते रहते है ये बाते जस्ट फॉर survival तक तो ठीक है । लेकिन अगर आप permanent उस काम मे बँध गये और वहाँ से आगे के plans नही बनाये तो आपकी लाइफ की क्या हालत होगी ये आप imagine कर सकते हो । 
जो चाहते है उसे करने की कोशिश ज़रूर करे । समय ज़रूर लगता है पर काम हो ही जाता है ।

5. दूसरो के साथ comparison करना ।

कंपेरिज़न तब शुरू होता है जब हमारा ध्यान अपने ऊपर से हट कर किसी ओर की तरफ़ चला जाता है । हम जाने -अनजाने मे अपना comparison किसी दूसरे के साथ मे करने लग जाते है जिस वजह से अपनी अंदर की दुनियाँ को solve out नही कर पाते । कोई भी इन्सान अपनी एक अलग खूबी के साथ पैदा होता है । कुछ समय के लिये वो खुद को कुछ ओर समझ लेता है जिस वजह से अंदर conflict होता रहता है । लेकिन मेरे हिसाब से कई बार comparison ज़रूरी भी होता है अगर किसी के अंदर कुछ अच्छी qualities है या कोई skill है तो ये अफसोस करने की वजाये की ये मेरे अंदर नही है उस व्यक्ति से उस skill को सीखना और अपने अंदर  develop करना ,ये अपने आप मे amazing है । 
इसलिए यहाँ आपका सीखने वाला attitude ब जाता है और आप को कुछ अच्छा सीखने को मिलता है । इसलिए comparison भी अपने हिसाब से हर जगह एक जैसा साबित नही होता । ये आप पर depend है कि आप अपनी लाइफ कहाँ तक और कैसे लेकर जाते हो ।
    ''Only way to solve the problems,face it and fight it.'' DLs Author