जीवन मे हमेशा अकेले ही आगे बढ़ना पड़ता है ।

समय के साथ -साथ हमारे जीवन मे भी कई मोड़ आते है । हर रोज़ किसे नय दौर से हमे गुजरना पड़ सकता है । इसी बीच हम ऐसी कई चीजे देखते है जिनका अनुभव करने की हम शायद कभी सोचते भी ना हो ।
Sad story by dreamlifestruggle
लेकिन इसी बीच जो सबसे महत्वपूर्ण बात है वो कुछ ऐसे तथ्य पेश करती है जिससे ये मालूम होता है कि जीवन मे कुछ भी स्थाई नही है । हालात समय के हिसाब से बदलते रहते है । जिनमे से दो चीजे हमारे ऊपर गहरा असर डालती है ।
  1.  हम लोगो से और चीजो से भावनात्मक रुप से जुड़ चुके होते है,जो कि हमारे रास्ते के सबसे बड़े रुकावटों मे से एक है और दूसरा 
  2. जिनसे हम जुड़े होते है ,उनसे आज नही तो कल अलग जरूर होना होता है ।
ऊपर बताई गयी बाते भले ही आपको सधारण लगे पर ये हमारे जीवन मे बहुत गहरा असर डालती है । मै आपको इसे एक कहानी के माध्यम से सुनाना चाहूंगा ।
ये कहानी एक ऐसे लड़के की है जो बचपन से ही खुश रहने वाले स्वभाव का था,किसी भी किस्म का डर उस पर हावी नही था । अपने दोस्तो के साथ और रिश्तेदारों के साथ खूब मज़े से मिलता ,खेलता और हँसी मजाक करता । लेकिन जैसे -जैसे वो बड़ा हुआ उसकी आदतें भी सयानी होती गयी । वो स्वभाव से नरम होने लगा । अगर कोई भी उसके साथ अच्छा व्यवहार करता,उसके प्रति अपनी हमदर्दी पेश करता,वो उससे भावनात्मक रुप से जुड़ता चला जाता । समय बीतता गया और वो लड़का भी बड़ा होता गया । समय के साथ -साथ उसके हालात भी बदलते गये । उसके दोस्तो की संख्या और ज्यादा बढ़ती गयी और साथ मे वो जीवन के नय तौर तरीके भी सीखने लगा । कभी दोस्तो के साथ घूमना ,कभी एक साथ बैठ कर सभी ने पढ़ना ,तो कभी कुछ । अपने दोस्तो के साथ वो खूब मज़े से रहता । उनकी बाते अपने घर पर बताता । 
उस लड़के के क्लास मे एक लड़की थी । जो उससे बहुत अच्छे से व्यवहार करती ,उसके साथ मीठी -मीठी बाते करती । उस लड़के को उस लड़की से धीरे-धीरे प्यार होने लगा । उसने अपनी बात उस लड़की को बतानी चाही ,पर वो बता नही पाया । ऐसा करते -करते समय और भी बीतता चला गया और उसके घर के हालात और भी खराब होते चले गये । अब उसके जीवन मे एक समय ऐसा भी आया जब उसकी पढ़ाई छूट गयी और उसे काम की तलाश मे इधर -उधर धक्के खाने पड़े ।
उस लड़के ने अपने आप को उस संघर्ष के माहौल मे नही ढाला क्योंकि उसने आज से पहले कभी भी ऐसी परेशानियां नही झेली थी । वो अपने दोस्तो के पास मदद माँगने के लिये जाता । उसके दोस्त ऊपर -ऊपर से तो उसकी मदद के लिये तैयार हो जाते लेकिन अंदर से उससे पीछा छुटाने के बारे मे सोचते और कही ना कही इस बात से वो लड़का खुद भी वाकिफ हो चुका था । कोई भी उसकी मदद करने के लिये तैयार नही था, समय के बीतते उसकी दोस्ती यारी वाली जिंदगी भी छूट गयी ।  एक दिन उसने उस लड़की से सम्पर्क करने की कोशिश करी,पर उस लड़की ने भी उसके साथ बात करने से मना कर दिया ।  वो लड़का अपने हालातों पर बहुत रोया क्योंकि उसने इससे पहले कभी भी ऐसा जीवन व्यतीत नही किया था । फ़िर एक दिन वो सड़क के किनारे अकेले खड़ा हुआ था । वहाँ बहुत तेज़ बारिष हो रही थी । उसने उस वक़्त एक ऐसा दृष्य देखा जिसने उसकी पूरी की पूरी लाइफ बदल कर रख दी और उसकी लाइफ मे बहुत बड़ा चेंज आया । वक़्त के बीतते उसकी मुशकिले कम हो गयी और उसको जीवन के असली मायने समझ मे आ गये । उसके हालात भी काफी सुधर चुके थे । अब वो अपने जीवन से भी काफी खुश था । वो लड़का दोबारा ऊन दोस्तो से और लड़की से कभी नही मिला । 
Also read:ईमानदार कोशिश -True story of a man
आखिर उसने ऐसा क्या देखा था जिसकी वजह से उसकी लाइफ मे इतना बड़ा बदलाव आया ! आइये जानते है, जब वो सड़क पर अकेला खड़ा था तो उसने  देखा कि एक कुता जो कि बारिष मे पूरी तरह भीग चुका था ,दर्द से चीला रहा था क्योंकि उसकी एक टाँग टूटी हुई थी । वो ऐसे चिला रहा था जैसे मानो कि सबको मदद के लिये आवाज़ लगा रहा हो कि मेरी मदद  करो । पर उसकी मदद के लिये कोई भी रुक नही रहा था । अब बहुत सी कोशिशों के बाद वो कुता सोचने लगा कि उसको शायद वहाँ से निकलने की कोशिश करनी चाहिये और वो लंगड़ाता हुआ वहाँ से चला गया । ये सब कुछ होता हुआ वो लड़का देख रहा था और उसने भी हिम्मत करके इसी तरह आगे बढ़ने की सोची ,अपने हालातों को अपनाया और आगे चल दिया ।
दोस्तो इस कहानी से हमने क्या सीखा ,ये शायद आप सभी अच्छे से समझ गये होगे । जीवन की लड़ाइयों को हमेशा अकेले ही लड़ना पड़ता है । हम दूसरो के भरोसे बैठ जाते है और उनसे उमीदें लगा लेते है कि ,यार ये तो मेरा बड़ा अच्छा दोस्त है । मुझे ये ना नही करेगा । लेकिन जब वक़्त खराब चल रहा हो तो दोस्ती यारी सब चीजे जिनसे हम उमीदें लगा कर बैठते है वो सब पीछे छूट जाता है । हमे अकेले ही अपने जीवन की लड़ाई लड़नी होगी । यही छोटी सी बात उस कूते ने लड़के को सीखा दी । ऐसा नही था कि उस लड़के के हालात तुरंत बदल गये थे लेकिन उसने अपनी situation को समझा और उसके हिसाब से आगे बड़ा ।  ये ज़रूरी नही कि जो लोग आज आपके साथ है, वो कल भी आपके साथ होगे । लेकिन ये बात बहुत ज़रूरी है कि हम अपना रास्ता खुद ही चुने और अगर कोई साथ ना दे तो अकेले ही आगे बड़े । क्योंकि लोग अगर संघर्ष मे आपके साथ नही भी है तो कोई फर्क नही पड़ता । आपकी सफलता के वक़्त वही लोग अपके साथ चलेंगे । 


हम ने अपनी काफी posts मे ये देखा है कि लोग हमारे articles read तो करते है, लेकिन comment बिलकुल nhi करते, अगर आप भी उन लोगो मे से एक है तो please comments जरूर करिये, आपका एक valuable comment हमें नये - नये articles लिखने की प्रेरणा देता है !